गुरुवार, 11 मार्च 2010

वाह क्या चीज है

सिलवर,ब्लैक
बराऊन,चेरी
स्टाइलिस,स्लाइडिंग
स्लिम,सेक्सी
वॉव, क्या वॉडी है
सेमसंग,एलजी
मोटोरोला
फ्लाई,स्पाईस

जवां दिलों की धड़कन
नेटिंग,चेटिंग,सरफिंग
और कॉन्फ्रेनसिंग
कर लो दुनियां मुट्ठी में
वॉव, वाह क्या चीज है
मोबाइल।

9 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी टिप्पणी के लिए आपका आभार....बेहद सही बात लिखी हैं आपने....जानते हम सभी हैं....पर शायद उतने अच्छे से नही जैसे कि आपने कविता का रूप देकर बता दिया....

    ---डिम्पल

    उत्तर देंहटाएं
  2. वाह क्या शान्दार रचना है.बधाई.
    लेकिन आप नोकिया को क्यो भूल गयी:)

    उत्तर देंहटाएं
  3. चीज़ तो है सच में ... आपने उसे और निखार दिया ....

    उत्तर देंहटाएं
  4. कम शब्दों में बहुत सुन्दर कविता।
    बहुत सुन्दर रचना । आभार

    ढेर सारी शुभकामनायें.

    SANJAY KUMAR
    HARYANA
    http://sanjaybhaskar.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  5. कुछ भी कहिये मोबाइल है तो बहुत काम की चीज़ ।

    उत्तर देंहटाएं